Terms-Conditions

संपणू अनबुध (Entire Agreement) शत और नजता पॉलसी (समय समय पर परवतनीय), आपके और कपनी के मय एक सपणू अनबुध थापत करती है। यद इन शत के कोई ावधान, गरै काननूी, शूय या कसी कारण से अवतनीय माने जाते ह, तब उन ावधान को इन शत से थकरणीय माना जावेगा तथा शेष ावधान क वधैता और वतन पर कोई भाव नहं होगा। सामाय शत (General Terms)
1. ाकृतक आपदा (Force Majeure): कसी भी िथत म आर०एन०औ०इ० अपने नयण के बाहर के कृय या कसी ईवरय कृय के लये िजमेदार नहं होगा।
2. सेवाओं म परवतन (Modification in Services): हम वेबसाइट म परवतन या वेबसाइट क समाित (पणू या आंशक), सेवाएँ या वेबसाइट क कोई भी वषयवतु को, करने का अधकार सुरत रखते है। हम अपने इस अधकार का उपयोग करने पर, आप या कसी ततृीय पाट के त उतरदायी नहं हगे।
3. अधयाग नह (No Waiver) वेबसाइट मालक का अधकार के उपयोग म या कसी अधकार या शत एंव नयम के ावधान को कायािवत नहं करने से, यह नहं माना जावेगा क उन अधकार या ावधान का अधयाग कर दया गया है।
4. ततृीयप लाभाथ या अधकार नष (No Third Party Beneficiaries or Right):
यह नयम और शत कसी भी ततृीय प के लये कोई नजी अधकार को नमत नहं करती है या कोई यथोचत अपेा क वेबसाइट या सेवाएँ, इन शत के वारा नष वषयवतु को समावट नहं होगा।
5. शकायत (Complaints):
यद आपको, हमार वेबसाइट के दारा दत सेवाओं के बारे म कोई शकायत(त) है तो कृपया वछदंता से हम contactrninfra@gmail.com पर ई-मेल कर और कृपया अपना नाम, ई-मेल पता, भौतक पता और सपक फोन नं. अवय देव ताक हम शकायत का ववरण और उसक ामाणकता क पिुट कर सके।
6. नदेश (Assignment): इन नयम एंव शत के तहत आप अपने अधकार और दायव कुछ भी नदेशत नहं कर सकते ह।
7. सूचनाएँ (Notices)⁄ सुाव : कोई भी सूचनाएँ या सेषण जो आप हम भेजना चाहे, हमारे एप म या ई–मेल contactrninfra@gmail.com पर अथवा हमारे वासएप नं० 7523987661 पर संदेश ेषत करग े।
8. ववाद समाधान (Dispute Resolution):: कोई भी ववाद, जो आपके वेबसाइट उपयोग या वेबसाइट के दारा द गई सेवाओं से सबिधत ह, को मयथता के लये फैजाबाद अयोया यायालय म, दाखल कया जावेगा, यह छोड कर कस उन यायालय के थान व वशेष काये के सबध म सहमत देते ह।
9. हम अपने अलकेशन पॉलसी और नयम व शत म कसी भी समय परवतन करने का अधकार सुरत रखते है। यद कोई भी नयम या शत नयम व या शूय या कसी कारण से अवतनीय मानी जाती है तब वह शत पथृकरणीय मानी जावेगी और शेष शत के वतन पर कोई भाव नहं होगा।
10. जानकार देना (Feedback) : हम जानकार(Feedback), टपणी, सुझाव का, सेवाओं म सुधार के लये वागत करते ह। आप अपने फडबॅक ई-मेल से हम contactrninfra@gmail.com भेज सकते है। नयम व शत  नयम 1, वषय-े  नयम 2, ऑफ़र एवं संवदा नपादन  नयम 3, भुगतान वध, डलवर, शपगं  नयम 4, ऑफ़सेटगं, तधारण  नयम 5, रकरण अधकार  नयम 6, हक तधारण  नयम 7, वारंट, गारंट  नयम 8, अंतम ावधान नयम 1, वषय े , (1) ाहक के प म आपके और हमारे बीच चल वतुओं (इसम इसके पचात 'माल') क ब और डलवर से संबंधत संवदाएँ अनय प से ननलखत सामाय नयम एवं शत (इसम इसके पचात 'न. एवं श.') के संवदा नपादन के समय माय संकरण के अधीन हगी। आपक भन शत तब तक माय नहं हगी जब तक हम इनक वधैता के लए पट सहमत न द। नयम 2, ऑफ़र एवं संवदा नपादन
(1) हमार ऑनलाइन दकुान, ोशर, वापन व अय चार सामी हमार दकुान म हमारे उपाद क तुत हमारे लए काननूी प से बायकार ताव नहं बिक सौदे का नमंण दशाती है। (2) हमार ऑनलाइन दकुान म ऑडर करते समय ऑडर या के अंत म 'खरद' पर िलक करके आप आपने शॉपगं काट के माल के लए काननूी प से बायकार ऑडर करते ह। हम आपके वारा ऑडर करने के तुरंत बाद इसक ाित क पिुट ईमेल मोबाइल संदेश से करते ह (ाित-सचूना)। ाित-सचूना का अथ खरद संवदा को वीकार करना नहं है। खरद संवदा केवल तब अितव म आएगी जब हम ईमेल वासएप मोबाइल संदेश से एक अलग ऑडर पिुट भेजकर या पाँच दन के अंदर आपको माल क डलवर करके आपके ऑनलाइन ऑडर को वीकार कर। इसका सपणू एकाधकार फम का होगा। (3) हम संवदा के पाठ को संगहृत करगे और आपको ऑडर ववरण ईमेल वासएप मोबाइल संदेश से भेजग।े
नयम 3, भुगतान वध , डलवर , शपगं
(1) आप ननलखत भुगतान वधय म से कोई एक चुन सकते ह:  १ Online या अपने वायलट बलैस, से ह कए गए भुगतान वीकार होग। माल क शपगं करते समय फम के बक खाते धनराश जमा नहं क गई तो ऑडर वत: र हो जाएगा।  २ भुगतान क ाित ऑडर देते समय आपके वारा चुने गए भुगतान सेवा दाता वारा जोखम के हतांतरण क पिुट के बाद डलवर होती है।  ३ शपगं वध, शपगं माग और मालवाहक हम अपने ववेक के अनसुार चुनगे, बशत संबंधत प ने इसे लेकर कोई पट समझौता नहं कर लया हो।  ४ डलवर म देर होने पर आपको तुरंत सूचत कया जाएगा। नयम 4, ऑफ़सेटगं , तधारण आप केवल उस िथत म ऑफ़सेटगं के अधकार ह जब आप आपके जवाबी दावे अववादत या काननूी तौर पर थापत ह। आप तधारण के अधकार का योग केवल ऐसे जवाबी दाव के आधार पर कर सकते ह जो एक ह काननूी रते से संबंधत ह।
नयम 5, रकरण अधकार अगर आपने हमार ऑनलाइन दकुान म ऑडर दया है तो आपको ननलखत रकरण अधकार ात है: वापसी क नीत: और वापसी का अधकार आप १५ दन के अंदर बना कोई कारण बताए ात माल वापस कर सकते ह। समयसीमा क शुआत इस सूचना क लखत प (जैसे तपिुट ,या वासएप , ई–मेल) म ाित के बाद होगी, लेकन तब तक नहं जब तक माल ाितकता को नहं मल जाता (एकसमान माल क रपीट डलवर के मामले म पहल आंशक डलवर से पहले नहं) और अपनी िज़मेदारयाँ न नभा ल ह। आप केवल पासल के लए अनपुयकु्त माल (जैसे भार सामान) के मामले म लखत वापसी अनरुोध के मायम से माल वापसी के बारे म बता सकते ह। समयसीमा का पालन करने के लए माल या वापसी सचूना को समयसीमा से पहले ेषत करना ज़र है। माल वापसी जवाबदेह हमार होगी। वापस कया गया सामान या वापसी अनरुोध ननलखत पर भेज : RNAPP - Feedback
,contactrninfra@gmail.com , ya whatsapp 7523987661 वापसी अनरुोध के मामले म आपसे माल ले लया जाएगा। वापसी के परणाम अगर कोई वापसी होती है तो कसी प वारा ात कया गया भगुतान को 30 तशत क कटौती के साथ धनराश वापस कर दया जाएगा अथवा समान मूय क अय वतु क खरद का अवसर ात होगा । अगर वतु क िथत खराब हो गई है या लाभ (जैसे इतेमाल लाभ) क ाित पणू या आंशक प से नहं हो सकती है या केवल कमतर दशा म हो सकती है तो आपको हमारे नकुसान क भरपाई करनी होगी। आपको वतु क खराब िथत और उठाए गए लाभ क भरपाई केवल उस िथत म करनी होगी जब लाभ या खराबी का कारण वतु क वशेषताओं और फ़ंशन क जाँच करने के अलावा कसी और उेय के लए कया गया उपयोग हो। 'वशेषताओं और फ़ंशन क जाचँ' का अथ वतु का उस हद तक परण और इतेमाल करना है िजस हद तक ऐसा कसी दकुान म वाभावक प से कया जा सकता है। भुगतान क वापसी 30 दन के अंदर क जाएगी। आपके लए समयसीमा क शुआत माल या वापसी अनरुोध भेजे जाने के साथ होगी और हमारे लए इनक ाित के साथ।
वतपोषत कारोबार संचालन अगर आप इस अनबुधं को ऋण से वत-पोषत करते ह और बाद म अपने वापसी अधकार का योग करते ह तो आप उस िथत म ऋण अनबुधं के तहत बाय नहं होते ह जब दो अनबुधं मलकर एक आथक इकाई बनते ह। ऐसा खासकर तब माना जाएगा जब हम आपके ऋणदाता भी ह या जब आपका ऋणदाता वतपोषण के लए हमार सहायता पर नभर हो। अगर आपके रकरण के भावी होते समय या आपके वारा माल लौटाते समय हम ऋण पहले ह ात हो जाता है तो आपका ऋणदाता वतपोषत अनबुधं के तहत रकरण या वापसी के काननूी परणाम क बाबत आपसे संबंधत हमारे अधकार और दायव के लए आपको उतरदायी बनाएगा। अगर आप संवदागत बायता से जहाँ तक संभव हो बचना चाहते ह तो अपने वापसी अधकार का योग कर और रकरण का अधकार होने क िथत म ऋण अनबुधं र कर द। वापसी सचूना का अंत नयम 6, हक तधारण
खरद आइटम पर हमारा हक तब तक बना रहता है जब तक खरद कमत का पणू भुगतान नहं हो जाता। नयम 7, वारंट ,⁄ गारंट
(1) वारंट अवध आपके वारा माल ात होने के समय से शु होती है। वारंट उपभोय वतुओं और घसने वाले हस पर नहं लागू होगी। (2) हम अनुचत उपयोग, भंडारण, चालन, या दोषपणू या लापरवाह भरे रखरखाव के कारण आपके वारा होने वाल त या खराबी के लए वारंट नहं देते ह। आप उस िथत म वयं वारा क गई मरमत के लए खच क भरपाई का दावा नहं कर सकते जब आपने हम सुधार के लए पयात समय दया हो और उस अवध म यह काम नहं हुआ हो।
नयम 8, अंतम
ावधान आम घरेलु व दैनक उपयोग क वतुओं को आप सभी तक सुगमता पवूक पहुचाना तथा वयं क खरद पर या ोसाहन करने पर नधारत आय दान करना िजससे आप का जीवन सुखमय बन सके। 1- उपयोग कता का पजंीयन –कोई भी वयक अथवा संवदा करने हेतु सम यित यनूतमराश 500⁄–० क कट क थम खरद पर नधारत आय के साथ सदयता नयमानसुार हण कर सकेगा। 2- वतीय खरद पर नधारत आय दान कया जावेगा। परसीमा ⁄ काये 1- यवसाय का परे देश म उतर देश के िजला तर से सपणू देश तर तक परकिपत होगा यथा सभव काय े म परवतन एवं परवधन कया जा सकता है।